What Is Internet In Hindi – इंटरनेट क्या है-How does internet work?

What is internet in Hindi : आप सभी लोग यह बात जानते होंगे कि आज नेट के बिना जिंदगी अधूरी है। आज सभी लोग बिना एक स्मार्टफोन के जिंदगी को नहीं चला पा रहा है आज के समय में सभी के घरों में छोटा या बड़ा एक स्मार्टफोन जरूर है और इसका सबसे बड़ा कारण है इंटरनेट। आज की हमारी यही टॉपिक है की इंटरनेट क्या है, इंटरनेट कितने प्रकार के हैं , इंटरनेट के लाभ क्या है, इंटरनेट के हानि तथा इंटरनेट का फुल फॉर्म क्या है इत्यादि इसके बारे में जानेंगे। तो दोस्तों तो दोस्तों और भी इंटरनेट के बारे में जानने के लिए हमारे इस पोस्ट में अंत तक जरूर बने और इस पोस्ट को अंत तक विस्तार पूर्वक जरूर पढ़ें।


इंटरनेट क्या है

इंटरनेट बहुत से छोटी बड़ी नेटवर्क उसे मिलकर बना होता है इंटरनेट को खोजा नहीं गया है बल्कि इसका अविष्कार हुआ है जो कि अमेरिका में एक संस्थान है अपने लिए शुरू किया था। इंटरनेट एक नेटवर्क पर काम करता है जिसका नाम वाइड एरिया नेटवर्क है और यह नेटवर्क बड़े-बड़े महाद्वीपों शहरों देशों इत्यादि जगहों पर फैला होता है। ऐसे ही फैले हुए नेटवर्क को इंटरनेट का नाम दिया गया है। हम लोग इसे कंप्यूटर का एक बहुत बड़ा वैश्विक नेटवर्क कह सकते हैं क्योंकि इंटरनेट मोबाइल से ज्यादा कंप्यूटर में ज्यादा प्रयोग होता है।

What is Internet? How does internet work?

The Internet is a global network of computers connected together to share information. It works by transmitting data via a standardized protocol, called the Internet Protocol (IP), which is carried by physical networks such as fiber optic cables or satellite links. Data is divided into small packets and each packet is sent individually to its destination where it is reassembled into the original message. The transmission of data is controlled by routers that direct traffic to ensure the most efficient delivery of information.

What is internet in hindi
what is internet in hindi

इंटरनेट का पुराना नाम -what is internet in hindi

मैं आपके जानकारी के लिए यह भी बता दूं कि इंटरनेट का पुराना नाम बहुत ही कम लोग जानते होंगे जैसा कि मैंने आपको पहले ही कहा कि इंटरनेट सबसे पहले अमेरिका में एक संस्था द्वारा चलाया गया था तो वहीं पर इसका पुराना नाम ARPANET रखा गया था। ARPANET का पूरा नाम Advanced Research Projects Agency Network हैं। इसको अमेरिका में सन 1969 में यूएस डिफेंस द्वारा तैयार किया गया था।

चलिए दोस्तों अब हम लोग एक टेबल की मदद से कौन सा नेट किस सन में आया उसको जान लेते हैं इससे आपको नेट के बारे में जानने में और भी आसान होगी।

S.NoYearNet Name
11960ARPA
21967ARPA UPDATE
31967NPL
41969ARPANET
51970TCP/NET
61972DARPA
71981CSNET
81989ISPS
91995NSFNET
what is internet in hindi

चलिए दोस्तों अब बात करते हैं कि इंटरनेट कितने प्रकार का है जैसा कि आप और हम लोग यह जानते हैं कि इंटरनेट के प्रकार तो हैं लेकिन बहुत ही कम लोगों को पता है और उसका क्या उपयोग है यह भी किसी को नहीं पता होगा तो अभी हम लोग what is internet in Hindi में इंटरनेट के प्रकार के बारे में बात करेंगे।

यह भी पढ़े:

Bmi का फुल फॉर्म क्या हैं

गाने पर फोटो कैसे लगाए

डीजे मिक्स बनाने वाला ऐप


इंटरनेट के प्रकार – What is internet in hindi

इंटरनेट की मुख्यता 11 प्रकार होते हैं जोकि नीचे निम्न लिखित है

  • लोकल एरिया नेटवर्क (Local Area Network)
  • मेट्रोपोलिटन एरिया नेटवर्क (Metropolitan Area Network)
  • वाइड एरिया नेटवर्क (Wide Area Network)
  • पर्सनल एरिया नेटवर्क (Personal Area Network)
  • वायरलेस लोकल एरिया नेटवर्क (Wireless Local Area Network)
  • होम एरिया नेटवर्क (Home Area Network)
  • वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (Virtual Private Network)
  • कैंपस नेटवर्क (Campus network)
  • स्टोरेज एरिया नेटवर्क (Storage Area Network)
  • कंटेंट डिलीवरी नेटवर्क (Content Delivery Network)
  • पासिव ऑप्टिकल लोकल एरिया नेटवर्क (Passive Optical Local Area Network)

मैं आपके जानकारी के लिए यह बता दूं कि इंटरनेट सबसे ज्यादा वाइड एरिया नेटवर्क पर काम करती है । जिसका छोटा नाम WAN है। यह पूरा 11 इंटरनेट के प्रकार हैं और इन सबके अपने-अपने फायदे , कार्य व नुकसान है।

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि संसार में जितने भी वस्तु हैं सबके अपने अपने फायदे व नुकसान होते हैं तो ठीक उसी प्रकार से हमारे इस इंटरनेट के कुछ फायदे व नुकसान होंगी होंगे क्योंकि या एक बहुत बड़ी टेक्नोलॉजी है तो इसका फायदा और नुकसान होना ही है।

इंटरनेट के फायदे

  • 1 – जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि इंटरनेट आ जाने से बहुत से लोग अपना काम चंद मिनटों में कर लेते हैं तो इसका मतलब यह है कि इंटरनेट समय को बचाता है।
  • 2 – इंटरनेट के आ जाने से बहुत से काम करना आसान हो गया है जैसा कि पहले लोग चिट्ठी का उपयोग करते थे लेकिन आज ईमेल व्हाट्सएप के थ्रू चंद मिनटों में बात कर लेते हैं।
  • 3 – इंटरनेट की वजह से ही लोग जीवन का भरपूर आनंद ले पा रहे हैं क्योंकि इंटरनेट पर कुछ भी लिखने या बोलने से वह उनकी आवश्यकताओं को पूर्ण कर दे रहा है।
  • 4 – इंटरनेट की वजह से ही आज दुनिया भर में लोग घर बैठे बैठे हैं अपनी पसंदीदा सामानों को खरीद पा रहे है।
  • 5 – इंटरनेट पूरी दुनिया भर में एक ऐसा नेटवर्क बन गया है जो कि इसके बिना जिंदगी भी असंभव लगती है क्योंकि यह बड़े से बड़े काम छोटे से छोटे कामों को चंद मिनटों में कर देता है। यह दूर देश से पैसे ट्रांसफर करा देता है एवं घर बैठे सामानों को मंगा देता है। इसकी वजह से मनोरंजन भी कर लेते हैं और अपने सभी आवश्यकताओं को पूर्ण भी करते हैं।
  • 6- आज के नौजवान इंटरनेट पे ब्लॉगिंग और यूट्यूब जैसे प्लेटफार्म की मदद से लाखो रुपिया कमा रहे है।

जैसा कि हमने आपको ऊपर ही बता दिया था कि संसार में जितने भी वस्तुएं हैं। सब के अपने अपने फायदे व नुकसान होते हैं। अभी तक तो हमने आपको फायदे के बारे में बता दिया है तो चलिए अब दोस्तों हम लोग इसके नुकसान के बारे में भी बात कर लेते हैं कि इंटरनेट के नुकसान क्या क्या है।

इंटरनेट के नुकसान

  • 1 – इंटरनेट को चलाने में लोग इतने लीन हो जाते हैं कि सभी लोगों को समय का पता ही नहीं चलता है तो इससे समय की बर्बादी भी होती है।
  • 2 – जैसा कि आप और हम सभी लोग जानते हैं कि इंटरनेट कोई छोटा-मोटा नेटवर्क नहीं है तो इसका मतलब यह है कि यहां पर जाना सिर्फ अपने काम को पूरा करके चले जाना है क्योंकि इंटरनेट एक ऐसा स्थान है जो बच्चों के लिए सुरक्षित नहीं होती है।
  • 3 – इंटरनेट पर जितनी भी जानकारियां होती हैं यह तो सभी लोग जानते हैं कि बिल्कुल सही सही बताती हैं लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं होता है कुछ ऐसी भी जानकारियां होती हैं जिनको पाकर हम लोग गलत साबित हो जाते हैं तो वह हम लोग को निरीक्षण करना होता है कि यह जानकारी हमारे लिए सही है या नहीं।
  • 4 – ऐसा कि आप और मैं यह जानते हैं कि इंटरनेट के द्वारा हम लोग पैसे एक स्थान से दूसरे स्थान तक भेजते हैं तथा मंगाते हैं। तो यह पूर्ण रूप से सही नहीं हो सकता है इसमें बीच में पैसे रुक भी सकते हैं इससे पैसे की धोखाधड़ी भी हो जाती है।
  • 5 – जैसा कि हम और आप यह बात भी जानते हैं कि इंटरनेट एक विदेशी संस्था ने शुरू किया था तो इसका मतलब यह है कि यह हमारे लिए पूर्ण रूप से सुरक्षित नहीं हो सकता है क्योंकि हम लोग जो कुछ भी सर्च करते हैं वह सभी एक जगह पर जाकर स्टोर होता है।

निष्कर्ष

हम उम्मीद करते हैं कि दोस्तों कि आज की हमारी यह पोस्ट What is internet in hindi आपको जरूर पसंद आई होगी। यदि आपको इस पोस्ट में कहीं भी किसी भी प्रकार की कोई भी त्रुटि या गलती नजर आई हो तो हमारे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं।यदि आपको यह पोस्ट पसंद भी आई हो तो इसकी भी जानकारी हमारे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं धन्यवाद ।

Leave a Comment